Welcome :    
Boys-10
Girls-1
Matrimonial Profile See All
manish thakur
Male
Age: 34
hotel and garment bussiness View
senidan singh
Male
Age: 32
Doctor View
Mayur soya gadhavi
Male
Age: 27
Engineer View
JK Charan
Male
Age: 34
IT Professional View
sheetal kanwer
Female
Age: 34
study View
Karni Kumar Kiniya
Male
Age: 37
ITES View
ravi charan
Male
Age: 31
bussiness View
jagpal singh sandu
Male
Age: 28
mbbs student View
Sher Singh Charan
Male
Age: 30
Indus Tower Networking (OMCR) View
Govind Singh Detha
Male
Age: 24
LDC View
Fateh Dan
Male
Age: 26
Krushi mitra View

CHARAN-DEVIYAN

सेणी जी लालस जाति की चारणी गुजरात की काछेला वेदा जी की पुत्री थी ! अपनी बाल्य अवस्था मे हिमालयजाकर अपना लोकिक शरीर त्याग दिया था !वीझानंद जो भाचलिये शाखा के चारण थे व उक्त शक्ति सेब्याह करना चाहते थे ! लेकिन वचनानुसार समय पर नही पहुच पाये , शक्ति ने अपना शरीर त्यागदिया था! माताजी का ग्राम जुढीया , जिला जोधपुर मे भव्य मन्दिर हे !
इन्द्र माता : इन्द्र नामक शक्ति का जन्म जिला नागौर खुड़द नामक ग्राम मे सागर दानजी रतनु के यहाँ हुवाथा ! साक्षात आवडा देवी का अवतार थी ! मरदानापोशाक मे रहती थी !वर्तमान मे उक्त देवी का अवतारजोधपुर जिले मे जुढीया ग्राम मे सुवा नामक शक्ति साकार रूप मरदाना वेश मे विराजमान हे ! इनके पिताकानाम किशन दान लालस था !इस कलिकाल मे मैया के बड़े चमत्कार हे !
सती माता चंदू : आप मांडवा ग्राम के उदे जी सिन्ढायच की पुत्री थी , आपका ससुराल दासोडी था ! आपनेपोखरण ठाकुर सलाम सिंह के अन्याय करने के कारणभरी जमर किया था ! मैया के अनेक चमत्कार हे !
शीलो सती : आपका पियर कोडा ग्राम था ! ठकर दान रतनु की पुत्री थी , व ससुराल झणकली ग्राम मे था !पति का नाम जोगराज जी बिठू था ! खोखर राजपूतोव उनके हिमायती जैसलमेर राजा पर जमर किया था !माड़ खावड़ के ग्रामो मे आपके विशेष चमत्कार हे ! इसी ग्राम मे देमो नामक सती ने गुडा राणा के अन्यायकेकारण जमर किया था ! यह ग्राम तो सतियों का गढ़ हे !!
जामो सती जी :- जामो सती जी जो हड़वेचा ग्राम के सुंदर दान चारण की पुत्री थी , आपका ब्याह मिठ्डीयेसिंध प्रदेश मे हुवा था , पति का नाम अमरदान देथा था! आपने रिंध नामक सकल जाति के असुरो को जमरकरके ख़त्म किया था ! व हरिसिंह को अमर कोट का शाशक होने का वरदान दिया था !!
हरिया सती : आपका पियर मीठन ग्राम व ससुराल वाडखा जिला सिरोही मे था , पिता का नाम वखत दान वपति का नाम दानजी था , उन्हें हिरणी ठाकुर केआदमियों ने ख़त्म किया था , इस बात का पता अठारह दिनबाद सती को चला , तब अपने पति का वेर लेने की उदेश्य से जमर किया , सावल जाति मे महँ सतीकहलाई! आपके बड़े चमत्कार हे !!
शायर बाई का जन्म जयपुर जिला दाता मे रतनु जी किनिये के यहाँ हुवा था !
संमध कंवर जो पोकरण के पास बारहट का गाव , रतनु नाला शाखा मे मुरा दानजी के यहाँ अवतार धारणकिया !

 

News
 AKHIL BHARTIYACHARAN PRATIBHA SANMMAN SAMAROH

Akhil bhartiyaCharan pratibha sanmman samaroh

View
 AKHIL BHARTIYA CHARAN GADHAVI MAHASABH

Akhil bhartiya Charan Gadhavi Mahasabh

View
 AKHIL BHARTIYA PRATIMA SANMMAN SAMAROH

    Akhil bhartiya pratima sanmman samaroh

View
 NIVEDAN

Nivedan

View
 SAHYOGKARTA

Sahyogkarta

View
Events
 AKHIL BHARTIYA CHARAN GADHAVI MAHASABHA24/03/2017

View
 NIVEDAN24/03/2017

View
 AKHIL BHARTIYA CHARAN PRATIBHA SANMMAN SAMAROH FORM24/03/2017
View
Our Community In Various Fields


Paused:

Privacy Policy  Feedback

Registration Available

 

Registration Available